नीति आयोग क्या है? नीति आयोग के कार्य क्या हैं?

नीति आयोग क्या है? नीति आयोग के कार्य क्या हैं? – अगर आप एक छात्र है तो आपको नीति आयोग के बारे में पता ही होगा । क्योंकि यह आपके किताबो में भी दिया है। अगर आपने बीए में अर्थशास्त्र ली है तो आपको इस टॉपिक के बारे गौर से पढ़ना चाहिए। यह आपकी परीक्षा से लिया गया टॉपिक है जिसे लगभग सभी लोग जानते है चलिए बिना रुके मैं आपको आज नीति आयोग के बारे में बताऊंगा, नीति आयोग क्या है, इसका गठन क्यों हुआ, इसके काम क्या क्या क्या है।

नीति आयोग क्या है, इसको गठित क्यों किया गया ?

आज से करीब 70 साल पहले 1950 में भारत सरकार द्वारा योजना आयोग का गठन किया गया। भारत में सबसे पहले पंडित जवाहर लाल नेहरू जी को इस योजना का अध्यक्ष बनाया गया। अभी कुछ साल पहले माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 2014 में 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से योजना आयोग को खत्म करके नीति आयोग को लाए जाने की घोषणा की। नीति आयोग का गठन 5 वर्ष पहले 1 जनवरी 2015 को को किया गया।

इसके मुख्य अध्यक्ष माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी हैं,और इसके मुख्य अधिकारी (सीईओ ) अमिताभ कांत जी हैं। नीति आयोग का मुख्य उद्देश्य भारत में परिवर्तन को लाना है। यह आयोग राज्य सरकार से मिलकर केंद्र सरकार की नीति को बनाने में एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यह भारत में पंचवर्षीय योजनाओ को तयार करती है। यह भारत को थिंक टैंक के रूप में सेवा प्रदान करती है। यह आयोग गांव के लिए विभिन्न योजना को निकाल के उसको विकसित करता है। NITI आयोग का पूरा नाम National institute for transforming India है। इस अयोग के रचना के दो मुख्य केंद्र है — टीम इंडिया हब और ज्ञान वा अभिनव हब। टीम इंडिया में केंद्र सरकार द्वारा राज्यों की भागदारी का नेतृत्व होता है और अभिनव हब द्वारा थिंक टैंक की क्षमताओं का निर्माण होता है।

नीति आयोग के कार्य क्या क्या है?

● भारत में परिवर्तन को लाना ही नीति आयोग का सबसे बड़ा कार्य है।
● यह ग्रामीण विकास की योजनाओं को लागू करते हैं।
● नीति आयोग ने अत्याधुनिक संसाधन केंद्र बना रखे हैं जिसमें सुशासन पर एक शोध केंद्र और स्थाई विकास की सर्वोत्तम प्रथाएं बनाई जाती है।
● नीति आयोग राष्ट्रीय सुरक्षा के हित में आर्थिक रणनीति को बनाती है।
● यह अपनी योजनाओं पर सक्रिय रूप से निगरानी रखता है।
● यह आयोग अपने देश की आयात निर्यात पर निगरानी रखता है और अन्य देशों से अपने देश को बेहतर बनाने की नीतियों पर विमर्श करता है।

नीति आयोग की संरचना क्या है?

दोस्तों इतना सबसे बड़ा पद अध्यक्ष का होता है जो इस टाइम प्रधानमंत्री चाहिए इसमें प्रधानमंत्री द्वारा एक उपाध्यक्ष भी नियुक्त किया जाता है। इसका एक मुख्य कार्यकारी अधिकारी सी ओ होता है जोकि प्रधानमंत्री जी द्वारा नियुक्त किया जाता है, इसमें केंद्र के सचिव स्तर का भी पद होता है। अंशकालिक और पूर्णकालिक पद के नाम भी प्रधानमंत्री द्वारा नामित किए जाते है। इसमें कुछ आमंत्रित सदस्य भी रखे जाते है। ये वो लोग होते है जो अपने क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्यभार संभाला हो।

नीति आयोग के गठन पर क्या आरोप लगा?

दोस्तों कांग्रेस पार्टी द्वारा इस नीति आयोग पर सबसे बड़ा आरोप लगाया गया कि योजना आयोग और नीति आयोग मैं कुछ खास अंतर नहीं है फिर क्यों योजना आयोग को खत्म किया जा रहा है दोनों की कार्यप्रणाली एक जैसी है।
लेकिन सच बात तो यह थी कि योजना आयोग के रहते कई लोग योजना का लाभ नहीं उठा पा रहे थे, यही सब देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी नीति आयोग का निर्माण किया। उन्होंने कहा कि नीति आयोग भारत में एकीकृत विकाश संभव कराएगी। हालांकि कई योजनाओं का विपक्ष में केवल नाम बदले जाने पर आरोप जुड़ा है।

नीति आयोग के लिए शब्दकोष क्या क्या है?

1:- निर्णायक – किसी और चीज के विकास में सफलता के संबंध में भी महत्वपूर्ण।

2:- बढ़ावा – केंद्र को विकास के लिए प्रोत्साहित करना।

3:- स्थाई – नीति आयोग द्वारा सक्षम एक निश्चित स्तर पर बनाए रखा जाएगा।

4:- न्यायसंगत – निष्पक्ष।

5:- उत्तराधिकारी – वह व्यक्ति जो दूसरे को सफल बनाएं।

6:- शुरुआत – संस्था या किसी भी योजना की स्थापना का प्रारंभिक बिंदु।

7:- उपोक्त – उच्च मानक या गुणवत्ता से कम।

8:- प्रोत्साहन – किसी भी कार्य को करने के लिए प्रोत्साहित करना।

9:- प्रेरणा – इसके द्वारा हम किसी को प्रोत्साहित करते हैं।

10:- उन्नयन – किसी चीज की गुणवत्ता उयोगिता में सुधार करना या व्यक्ति को नौकरी देने की प्रक्रिया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*