टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है? टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना क्यों जरूरी है?

टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है? टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना क्यों जरूरी है?
टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है? टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना क्यों जरूरी है?

टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है? टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना क्यों जरूरी है? – यदि किसी घर में कमाई करने वाला कोई एक व्यक्ति होता है और उसकी मृत्यु हो जाती है ऐसी स्थिति में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ जाता है। उसके पूरे परिवार आर्थिक रूप से कमजोर हो जाता है और फिर उसे दर-दर भटकना पड़ता है। ऐसी स्थिति में टर्म इंश्योरेंस का महत्व पता चलता है। यदि आपने टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी ली है तो यह कमाई करने वाले व्यक्ति की मृत्यु के बाद काफी काम आता है। इसीलिए इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है? टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना क्यों जरूरी है?

Read More – TCS के शेयरों से मिल सकता है अच्छा फायदा, अभी शुरू करें निवेश

किसी की जिंदगी कब समाप्त हो जाए इसके बारे में कोई नहीं कर सकता। इसीलिए ऐसी स्थिति में टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी का महत्व काफी अधिक बढ़ जाता है। बहुत सारे लोग नियमों के चलते अपने वाहनों का इंश्योरेंस करा लेते हैं लेकिन खुद के जीवन का इंश्योरेंस कराने से कतराते हैं। इसीलिए अब हम आपको बताने जा रहे हैं कि टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है?

टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है?

साधारण शब्दों में कहा जाए तो टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी किसी व्यक्ति के एक निश्चित अवधि के लिए किया गया एक जीवन बीमा होता है। यदि किसी व्यक्ति का इंश्योरेंस हुआ है और निश्चित अवधि से पहले ही उसकी मृत्यु हो जाती है तो इंश्योरेंस की रकम उसके नॉमिनी को दे दी जाती है। इस रकम के चलते उसके परिवार का जीवन यापन अच्छी तरह से हो पाता है। टर्म इंश्योरेंस में यह पहले से पता होता है कि बीमे के निश्चित अवधि से कम समय में मृत्यु हो जाने पर कितनी रकम मिलेगी।

टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी किसे खरीदना चाहिए?

बहुत सारे लोगों का यह सवाल होता है कि टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी किसे खरीदनी चाहिए? बहुत सारे लोग यह सोचते हैं कि परिवार के सभी सदस्यों का टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना जरूरी है जबकि ऐसा नहीं है बल्कि टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी उसी व्यक्ति को करानी चाहिए जो कमाई कर रहा होता है ताकि यदि किसी कारणवश उसकी मृत्यु हो जाए तो उसके परिवार को भविष्य की चिंता न करनी पड़े।

टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना क्यों जरूरी है?

जब किसी परिवार में कोई एक व्यक्ति कमाई कर रहा होता है और उसके द्वारा कमाए गए पैसे से परिवार का खर्च चल रहा होता है तो कमाई करने वाले व्यक्ति को टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना बहुत ही जरूरी है। यदि किसी कारणवश कमाई करने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में उसके परिवार को आर्थिक समस्याओं से गुजरना पड़ जाता है। यदि उसके बेटे एवं बेटी छोटे छोटे हैं तो उनके पढ़ाई एवं शादी के लिए समस्या उत्पन्न हो जाती है।

ऐसी स्थिति में यदि कमाई करने वाले व्यक्ति ने एक निश्चित अवधि के लिए टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लिया है तो उस निश्चित अवधि में जब उसकी मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को एकमुश्त रकम दे दी जाती है जिसके चलते उसका परिवार आर्थिक संकट से उबर पाता है और बेटे बेटी की पढ़ाई एवं शादी का खर्च वहन कर पाता है। इसीलिए टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी का काफी अधिक महत्व होता है।

टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी कब लेना चाहिए?

यदि आप कर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना चाहते हैं तो 18 वर्ष से 65 वर्ष की उम्र के बीच कभी भी ले सकते हैं। लेकिन कम उम्र में मृत्यु की संभावना काफी कम होती हैं, इसीलिए ऐसी स्थिति में टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना अच्छा विकल्प नहीं है। लेकिन यदि आप 40 वर्ष की उम्र के बाद टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेते हैं तो उस समय आप का इंश्योरेंस प्रीमियम अधिक हो जाएगा जिसके चलते आप की मृत्यु हो जाने के बाद आपके परिवार को अधिक राशि मिल पाएगी।

कितने अमाउंट का टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदना चाहिए?

जानकारों की मानें तो आपके कुल वार्षिक आय का 20 गुना अधिक टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदना बेहतर होता है। जैसे मान लीजिए कि आप की वार्षिक आय ₹600000 है तो आपको एक करोड़ 20 लाख रुपए का टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी लेना चाहिए। टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी पर मुद्रा स्थिति का भी असर पड़ता है। इसके लिए आप 6% मुद्रास्फीति की दर भी मान कर चल सकते हैं। टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय आपको यह ध्यान रखना जरूरी है कि आपका इंश्योरेंस उसने रकम का होना चाहिए जितने में आपके परिवार का खर्च अच्छी तरह से चल सके और उसका भविष्य भी अच्छा बन सके।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*